जिलाधिकारी ने किया बाजपुर नगर व कोसी क्षेत्र का निरीक्षण किया

जिलाधिकारी ने किया बाजपुर नगर व कोसी क्षेत्र का निरीक्षण किया
बाजपुर 2 जुलाई। जलभराव से निजात दिलाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी डाॅ.
पंकज कुमार पाण्डेय द्वारा आज बाजपुर नगर व कोसी क्षेत्र का निरीक्षण किया।
मलेरिया रोड व गुमसानी मोड़ का निरीक्षण कर उन्होंने लोक निर्माण विभाग के
अधिकारियों को निर्देश दिये सड़क के किनारे रोड कटवाकर पानी की निकासी
सुचारू की जाये। उन्होंने कहा जहाँ पर पानी नहीं निकल रहा है, वहाँ पटाल
तोड़कर जेसीबी से सफाई करने के बाद बड़े-बड़े ह्यूम पाईप डाले जाये।
जिलाधिकारी द्वारा नैनीताल रोड स्थित लेबड़ा पुल का भी निरीक्षण किया। 
जिलाधिकारी ने किया बाजपुर नगर व कोसी क्षेत्र का निरीक्षण किया
उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि मुंडिया
पिस्तौर नहर जिसके ओवरफ्लो होने के कारण पानी शहर की ओर आ रहा है। पानी शहर
की ओर न आये उसके लिये नहरों की सफाई कर गहराई बढ़ाई जायें। उन्होंने लोक
निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि नैनीताल रोड पर बजरंग राईस
मिल से पुलिया तक चैड़े नाले का निर्माण किया जाये। साथ ही उसमें गेट वाॅल
लगाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने इस कार्य में राईस मिल प्रबंधक मनीष
सिंघल से भी सहयोग देने को कहा। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को
नहरों की नियमित सफाई करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा बेरिया रोड
स्थित लेबड़ा पुल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने पुल के नीचे से मलबे को
उठाकर चिन्हित स्थान पर फेंकने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा केशोवाला
आदि ग्रामीण क्षेत्रों का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश
दिए। जोगीपुरा/कोसी क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए जिलाधिकारी ने सिंचाई
विभाग के अधिकारियों से कहा कि जहां पर कटाव की अधिक संभावनायें है, वहाँ
पर नदी को चैलेनाईजेशन किया जाये। सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता रामसकल
आर्य ने बताया जोगीपुरा क्षेत्र में स्पर बनाने हेतु सात करोड़ रूपया मंजूर
किया गया था। जिससे जोगीपुरा क्षेत्र के 800 मीटर क्षेत्र में स्पर बनाये
गये है। उन्होंने उपजिलाधिकारी तीरथपाल को निर्देश देते हुए कहा कि कोसी
नदी क्षेत्र में निवास करने वाले मजदूरों को शीघ्र वहाँ से हटाया जाये।
जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी, अधिशासी अभियंता लोनिवि, अधिशासी अभियंता
सिंचाई को आपस में तालमेल बनाकर जलभराव की स्थिति से निपटने के निर्देश
दिए। भ्रमण के दौरान दर्जा राज्यमंत्री हरेन्द्र सिंह ढि़ल्लन ‘लाडी’,
प्रशिक्षु आई.ए.एस. मनुज गोयल, उपजिलाधिकारी तीरथपाल, अधिशासी अभियंता
लोनिवि महेन्द्र कुमार, अधिशासी अभियंता सिंचाई रामसकल आर्य, तहसीलदार
सुदेश कुमार, अमित्रजीत सन्धू सहित अन्य लोग उपस्थित थे।
www.kashipurcity.com & www.adpaper.in – न्यूज़, जॉब अलर्ट, ऑनलाइन डील
शेयर करें

Leave a Reply