क्षतिग्रस्त भवनों के सुदृढ़ीकरण करने के निर्देश - काशीपुर ब्रेकिंग न्यूज़

Kashipur Breaking News [ www.kashipurcity.com ] Powered By : न्यूज़ वन नेशन

Breaking

Post Top Ad

Thursday, January 28, 2016

क्षतिग्रस्त भवनों के सुदृढ़ीकरण करने के निर्देश

रुद्रपुर 28 जनवरी - अपर जिलाधिकारी दीप्ति वैश्य ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में आपदा प्रबन्धन के तहत क्षतिग्रस्त भवनों की रेट्रोफिटिंग (सुदृढ़ीकरण) किये जाने हेतु आपदा प्रबन्धन, स्वास्थ्य, शिक्षा, पुलिस, ग्रामीण निर्माण एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक की। 
       एडीएम ने सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों से कहा कि शासन से निर्देश प्राप्त हुए है कि जनपद के सभी सरकारी अस्पताल, विद्यालय, प्रशासनिक भवन, थाने आदि की बिल्डिंग में भूकम्प जैसी आपदा के चलते जिन भवनों के क्षतिग्रस्त होने की सम्भावना है उन भवनों की जांच करते हुए उनका रेट्रोफिटिंग (सुदृढी़करण) किया जाना है ताकि आपदा के दौरान ये भवन सुरक्षित रह सकें। उन्होंने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे जनपद की सभी तहसीलों में अपने-अपने विभाग से सम्बन्धित भवनों का सर्वे कर उन भवनों को चिह्नित करें जिनमें रेट्रोफिटिंग की आवश्यकता है। उन्होंने निर्देश दिये कि जिन भवनों में रेट्रोफिटिंग (सुदृढी़करण) की आवश्यकता है उनकी सूची ले आउट सहित आटोकेड में बनाते हुए 06 फरवरी तक हर हाल में उपलब्ध करा दें ताकि सूची शासन को समय से प्रेषित की जा सके और आगे की कार्यवाही शीघ्र हो सके। उन्होंने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि यह आपदा से सम्बन्धित मामला है इसलिए इसमें किसी भी प्रकार की हीला हवाली बर्दाशत नहीं की जायेगी। उन्होंने स्पष्ट कहा कि इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों/ कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। एडीएम ने आपदा प्रबन्धन अधिकारी अनिल शर्मा को निर्देश दिये कि वे रेट्रोफिटिंग कार्य से सम्बन्धित सूचना जनपद के सभी एसडीएम को प्रेषित कर दें ताकि उनके द्वारा समय से कार्य पूर्ण करवाया जा सके। 
जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी अनिल शर्मा ने बताया कि रेट्रोफिटिंग एक ऐसी तकनीक है जिसके अन्तर्गत पुराने भवनों को नये भवनों जितना मजबूत किया जाता है ताकि वे भूकम्प जैसी आपदा को झेल सकें। उन्होंने बताया कि पुराने भवनों को ध्वस्त कर नये निमार्ण कार्य करवाये जाने की तुलना में रेट्रोफिटिंग में कम खर्च आता है साथ ही पुराने भवनों को नये भवनों जैसी मजबूती भी मिलती है।
       बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक डीसी सती,सीएफओ एनएस कुशवाह, स्वास्थ्य विभाग से अतुल जोशी, पंकज गुसाईं, प्रतीक शर्मा, ग्रामीण निर्माण विभाग से संजय भारती आदि उपस्थित थे।

A Digital Paper - www.adpaper.in & www.kashipurcity.com - न्यूज़, करियर , टेक्नोलोजी . #adigitalpaper

No comments:

Post a Comment

अपनी राय दें। आर्टिकल भेजें। संपर्क करें।

Post Bottom Ad