नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की सीनियर वाईस-प्रेसिडेंट ने छात्रों को किया संबोधित - काशीपुर ब्रेकिंग न्यूज़

Kashipur Breaking News [ www.kashipurcity.com ] Powered By : न्यूज़ वन नेशन

Breaking

Breaking News

Post Top Ad

Thursday, January 22, 2015

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की सीनियर वाईस-प्रेसिडेंट ने छात्रों को किया संबोधित

काशीपुर, आई आई एम् में छात्रों को संबोधित करते हुए नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की सीनियर वाईस-प्रेसिडेंट राणा उसमान ने कहा की हर सेकंड के लाखवें भाग में शेयर बेचे / खरीदे जाते हैं और करोड़ों का नफा / नुक्सान उठाया जाता है. इस तरह स्टॉक मार्किट में इतने उतर-चढ़ाव होते हैं की एक सेकंड का लाखवां भाग भी मायने रखता है. तकनिकी उन्नति के साथ उन अवसरों को पकड़ना संभव है. इस, ‘हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग’ का जन्म अमेरिका में हुआ और अब भारत में इस पर सुधर किया जायेगा. अमेरिका में कुछ नियामक सम्बन्धी समस्याएँ इसके पीछे लगी रहीं, जबकि भारत को इन समस्याओं में सुधार कर एक नए मॉडल का विकास करने का अवसर मिला है. जल्द ही भारत में इसका सुधरा हुआ एक ऐसा रूप उभर कर आयेगा जिसे दुनिया का कोई भी देश बेहिचक अपना सकेगा.

इसलिए यह जरुरी है की मैनेजमेंट के विद्यार्थी ‘अल्गोरिथमिक ट्रेडिंग’ की जटिलताओं को समझे. इसकी विशेषज्ञता को समझने के लिए, को दो विषय-क्षेत्रों की बेहतर समझ होनी चाहिए – एक, वित्तीय बाज़ार, और दूसरा, तकनीक – यह समझाते हुए राणा उस्मान ने कहा, “एमबी ए के विद्यार्थियों को इसकी जटिलता की अचूक समझ होनी जुरुरी है”. यह मानते हुए की संस्थान के विद्यार्थी तकनीकी में बेहतर हैं, उन्होंने बताया कि जो तकनीक में मजबूत नहीं, उन्हें परेशान होने की आवश्यकता नहीं है. ऐसे लोग वित्त बाज़ार में विशेषज्ञता हासिल कर तकनीकी पहलुओं के लिए बाहरी संस्थाओं को ‘आउटसोर्स’ कर सकते हैं.एसे ‘आउटसोर्स पार्टनर’ देश में आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं. इन बातों के साथ राणा उस्मान ने हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग के व्यावसायिक और तकनीकी पहलुओं पर संस्था के विद्यार्थिओं के साथ विस्तृत चर्चा की.
संस्था के साथ सहयोग की संभावनाएं तलाशने के लिए ‘नेशनल स्टॉक एक्सचेंज’ के शैक्षणिक विभाग के अध्यक्ष, जीoसीo शर्मा, भीइस अवसर पर उपस्थित रहे. उनके और आईo आईo एम्o काशीपुर की ओर से प्रोफेसर केo एनo बधानी और डॉ कुणाल के बीच इस विषय पर विस्तृत वार्ता हुई. डॉ. कुणाल ने बताया की, “यह समझा गया की दोनों की संस्थाएं मिल कर ‘प्रबंधन विकास कार्यक्रम, अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन, प्रशिक्षण कार्यक्रम, इत्यादी, आयोजित कर सकते हैं”.
प्रोफेसर के एन बधानी ने बताया कि, “आईo आईo एम्o काशीपुर का ध्यान वित्तीय बाज़ार से जीवंत अनुभव ला कर हमारे पाठ्यक्रम में समायोजित करना है”. यह भी बताया गया की नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ने क्रियान्वयन सम्बन्धी मुद्दों को अंतिम रुप देने की सैद्धांतिक सहमती दे दी है.



By इनसाइड कवरेज न्यूज़

No comments:

Post a Comment

अपनी राय दें। आर्टिकल भेजें। संपर्क करें।

Post Bottom Ad