‘गंगा गाय महिला डेरी योजना‘‘ की शुरुआत - काशीपुर ब्रेकिंग न्यूज़

Kashipur Breaking News [ www.kashipurcity.com ] Powered By : न्यूज़ वन नेशन

Breaking

Post Top Ad

Saturday, September 5, 2015

‘गंगा गाय महिला डेरी योजना‘‘ की शुरुआत

रूद्रपुर 05 सितम्बर - प्रदेश सरकार ने श्रीकृश्ण जन्माश्टमी के सुअवसर पर महिलाओं के आर्थिक एवं सामाजिक उत्थान हेतु ‘‘गंगा गाय महिला डेरी योजना‘‘ की शुरुआत की है। मुख्यमंत्री हरीश रावत की इस महत्वाकांक्षी योजना का शुभारम्भ आज युवा भवन में दुग्ध विकास मंत्री हरीश चन्द्र दुर्गापाल,जिलापंचायत अध्यक्ष ईष्वरी प्रसाद गंगवार,विधायक राजकुमार ठुकराल,काॅग्रेस जिलाध्यक्ष नारायण सिंह बिश्ट व जिलाधिकारी डा0 पंकज कुमार पाण्डेय ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्जवलित कर किया। योजना के शुभारम्भ के अवसर पर श्री दुर्गापाल ने 05 महिला लाभार्थियों को क्रास बीड दुधारु गायों का वितरण एवं अन्य 87 (सत्तासी) महिला लाभार्थियों को 40-40 हजार के ऋण चैकों का वितरण किया।  
 
दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लि0 खटीमा के तत्वाधान में  आयोजित ‘‘गंगा गाय महिला डेरी योजना‘‘ के शुभारम्भ पर बतौर मुख्य अतिथि बोलते हुए श्री दुर्गापाल ने कहा कि इस योजना की शुरूआत करके सरकार द्वारा दुग्ध विकास के क्षेत्र में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। यह योजना मुख्य रुप से महिलाओं के लिये है ताकि महिला अपने घर परिवार को आर्थिक रुप से मजबूत कर सके। उन्होंने कहा कि यह जनपद कृशि के क्षेत्र में महत्वपूर्ण स्थान रखता है, इसलिए महिलाओं को चाहिये कि वे पषुपालन व्यवसाय को अपनाकर अधिक से अधिक दुग्ध उत्पादन करें तथा प्रदेश में दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में जनपद को प्रथम स्थान पर लायें। उन्होंने कहा कि इस योजना की शुरुआत आज प्रदेश के सभी जनपदों में की जा रही है और इस योजना के तहत प्रदेश में इस वर्श 9590 महिलाओं को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है तथा 600 गायें योजना के शुभारम्भ पर वितरित की गई हैं।उन्होंने बताया कि प्रति लाभार्थी  के लिए रु0-52 हजार का प्रोजेक्ट है, जिसमें से सरकार द्वारा रु0-27 हजार का अनुदान दिया जायेगा, रु0- 20 हजार बैंक का ऋण होगा तथा रु0-05 हजार लाभार्थी का अंषदान होगा। उन्होंने कहा कि कर्नाटक के बाद उत्तराखण्ड ही मात्र ऐसा राज्य है जो प्रति लीटर दूध पर रु0- 04 के मूल्य से प्रोत्साहन राशि  दे रहा है,जिसके फलस्वरूप प्रदेश में दुग्ध उत्पादन में वृद्धि हुई है । उन्होंने महिला दुग्ध समितियों को दुग्ध प्रोत्साहन राशि  में और वृद्वि करने का आष्वासन दिया । उन्होंने कहा कि हथकरघा, हस्तशिल्प जैसे कुटीर उद्यागों में भी महिलाओं के लिये सरकार द्वारा अनेक योजनायें बनाई गयी है। लिहाजा महिलाएं कुटीर उद्योग अपनाकर आत्मनिर्भर बने। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह जनपद में क्षेत्रवार षिविर लगाकर सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी जनता को दें ताकि लोग सरकारी योजनाओं लाभ लें सकें।
 
   दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लि0खटीमा के प्रधान प्रबन्धक डाॅ0एचएस कुटौला ने बताया कि गंगा गाय महिला डेरी योजना के तहत इस वर्श जनपद में 250 महिला लाभार्थियों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होने दुग्घ उत्पादको से अपील की है कि इस ऋण राषि से वें अच्छी नस्ल के दुधारू पशु का क्रय करें ताकि दुग्ध उत्पादन से अच्छा लाभ मिल सकें। दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लि0 खटीमा के अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद षर्मा ने श्री दुर्गापाल व मंचासीन अतिथियों को पुश्प गुच्छ व षाॅल भेट कर सम्मानित किया। 
 
    इस अवसर पर पशु चिकित्साधिकारी डाॅ0 दुबे सिंह द्वारा गायों की नस्ल,पशुओं में होन वाले रोगों से बचाव व पशुओं के रखरखाव की जानकारी दी गई तथ नरेष चन्द्र गुनियाल द्वारा दूध की गुणवत्ता बढाने के टिप्स दिये गये।
 
    इस अवसर पर श्री दुर्गापाल ने श्रीमती चन्द्रा बिश्ट,जानकी देवी,कमलजीत कौर,षान्ति देवी व पुश्पा देवी को क्रास ब्रीड दुधारू गायों का वितरण किया तथा अन्य 87 महिलाओं को 40-40 हजार के चैकों का वितरण किया। 
 
   इस मौके पर जिपं अध्यक्ष ईष्वरी प्रसाद गंगवार,विधायक राजकुमार ठुकराल,कांग्रेस जिलाध्यक्ष नारायण सिंह बिश्ट,जिलाधिकारी डॅा0पंकज कुमार पाण्डेय एडीएम आषीश भटगई,एसडीएम अनिल षुक्ला,महाप्रबन्धक उद्योग बीआर आर्य,नावार्ड के विषाल षर्मा,जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी बीसी बुधानी सहित विभिन्न विभगीय अधिकारी व सहायक निदेषक डेरी बृजेष सिंह,सहायक प्रबन्धक महिला डेरी रेखा श्रीवास्तव,किरन माजरा,मनोहर सिंह बोरा सहित दुग्ध उत्पादन समितियों के सदस्य व अन्य लोग उपस्थित थे।

A Digital Paper - www.adpaper.in & www.kashipurcity.com - न्यूज़, करियर , टेक्नोलोजी

No comments:

Post a Comment

अपनी राय दें। आर्टिकल भेजें। संपर्क करें।

Post Bottom Ad